Aharbinger's Weblog

Just another WordPress.com weblog

प्रयोग से गुजरने की जिद तुम्हे भी है, मुझे भी…

Posted by Isht Deo Sankrityaayan on July 14, 2009

शब्द अपने संकेत और ध्वनि खो देते हैं,
रश्मियों का उभरना भी बंद हो जाता है…
विरोधाभाषी शंकायें एक दूसरे की हत्या
करते हुये समाप्त होते जाती हैं…
आंखों के सामने बहुत कुछ दौड़ता है
लेकिन दिखाई नहीं देता……
बाहर का शोर अंदर नहीं आता
………………सब कुछ सपाट।
पता ही नहीं चलता…शून्य में मैं हूं
या मुझमें शून्य है….
मीलों आगे निकलने के बाद अहसास
होता है मंजिल के पीछे छूटने का….
और फिर मंजिल भी अपने अर्थ खो देता है…
मंजिल सफर का शर्त नहीं हो सकता…
इस रहस्य को मैं गहराई से समझता हूं,
अनजाने रास्तों पर भटकने
की बात ही कुछ और है…
कोलंबस के सफर की तरह…उनमुक्त और बेफिक्र…,
शून्य के परे तुम उभरती हो,
एक दबी सी मुस्कान के साथ…
खाली कैनवास पर रंग खुद चटकने लगते हैं…
तुम एक रहस्मयी धुन में गुनगुनाती हो…
और खींच ले जाती हो मुझे ओस में लिपटे एक तैरते द्वीप पर…
रात सफर में हो तो सुबह आ ही जाती है….
प्रयोग से गुजरने की जिद तुम्हे भी है, मुझे भी…

Advertisements

8 Responses to “प्रयोग से गुजरने की जिद तुम्हे भी है, मुझे भी…”

  1. mehek said

    एक दबी सी मुस्कान के साथ…खाली कैनवास पर रंग खुद चटकने लगते हैं…तुम एक रहस्मयी धुन में गुनगुनाती हो…और खींच ले जाती हो मुझे ओस में लिपटे एक तैरते द्वीप पर…रात सफर में हो तो सुबह आ ही जाती है….प्रयोग से गुजरने की जिद तुम्हे भी है, मुझे भी… waah bahut badhiya

  2. सुन्दर /खुब सुरत /गजबआभार/ शुभकामनाओ सहितहे प्रभु यह तेरापन्थमुम्बई टाईगत

  3. "पता ही नहीं चलता…शून्य में मैं हूंया मुझमें शून्य है…."सुन्दर रचना,सुस्वागतम!!

  4. बेहतरीन …बेहतरीन…बेहतरीन

  5. पता ही नहीं चलता…शून्य में मैं हूंया मुझमें शून्य है….मीलों आगे निकलने के बाद अहसास……..बेहतरीन.

  6. बहुत बढिया, आलोक जी!

  7. Anonymous said

    k

  8. kabeeraa said

    एक परम शून्य में ,निमिष शून्य सी अपनी सृष्टि , ऐसे में अपना अस्तित्व हुआ शून्यों का योग चरम शून्य || उद्दघोष यह गायेगा कौन ?

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: